हमारा समाज

  1. मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है।समाज के बिना मनुष्य जीवित नहीं रह.सकता। समाज में रहकर वह नित नई बातो को सीखते है।

637 total views, 6 views today

Leave a Reply